सैप क्या है (What is SAP in Hindi)?

0

सैप (एसएपी) ईआरपी क्या है (What is SAP ERP)?

एसएपी एक ईआरपी (एंटरप्राइज़ रिसोर्स प्लानिंग) सॉफ्टवेयर है। English language में SAP शब्द का Full form “Systems, Applications and Products” होता है जिसका hindi meaning “सिस्टम, अनुप्रयोग और उत्पादों” होता है | आइये अब इसके बारे में अन्य जानकारी प्राप्त करते हैं|

SAP-KYA-HAI

एसएपी किसी संगठन को एकीकृत समाधान प्राप्त करने के लिए उसके सभी कार्यक्षमताओं को संसाधित अथवा प्रोसेस (Process) करने के लिए एक एकीकृत व्यापार सॉफ्टवेयर है।

ओपन क्लाइंट / सर्वर सिस्टम के लिए एसएपी आर / 3 (SAP R/3) एंटरप्राइज़ एप्लिकेशन  सूट (application suite) ने व्यवसाय सूचना मैनेजमेंट (management) समाधान प्रदान करने के लिए एक नए तरीके स्थापित किए हैं।

एसएपी का मूल विचार ग्राहकों को वो योग्यता प्रदान कराना है जिससे की वोह ऍप्लिकेशन्स की विस्तृत श्रृंखला को एक कॉमन कॉर्पोरेट डेटाबेस से मैनेज कर सके। आज एसएपी ऍप्लिकेशन्स (SAP applications) इतने विकसित हो गए है की आईबीएम और माइक्रोसॉफ्ट समेत कई कॉर्पोरेशंस (corporations) अपने स्वयं के व्यवसाय चलाने के लिए एसएपी उत्पादों का उपयोग कर रहे हैं।

एसएपी उत्पाद को श्रेष्ठ माना जाता हैं लेकिन उसमे कुछ खामिया भी है। एसएपी सॉफ्टवेयर उत्पाद के साथ मुख्य समस्या यह है कि यह कभी भी परफेक्ट (perfect) नहीं हो सकता है।

एसएपी (SAP) बिजनेस एप्लिकेशन के बाजार में सबसे बड़ी सॉफ्टवेयर कंपनी  है, 2006 में कंपनी का कारोबार $ 13 बिलियन से अधिक हुआ था, और एएमआर (AMR)रिसर्च के हिसाब से एसएपी (SAP)का बाजार का हिस्सा 43% था।

एसएपी सॉफ़्टवेयर  39,000 से अधिक कंपनियों द्वारा स्थापित किए गए हैं, और 120 से अधिक देशों में एसएपी उपयोग लगभग 12 मिलियन उपयोगकर्ताओं द्वारा किया जाता है। अंतरराष्ट्रीय एसएपी स्थापना जर्मनी मे हुई है, और कंपनी के अल्मा माटर को वैश्विक विशाल आईबीएम के जर्मन विभाग माना जा सकता है।

एसएपी ईआरपी (SAP ERP) वित्तीय और प्रबंधन लेखांकन (financial and management accounting), कर्मचारी प्रबंधन (employee management),परिचालन गतिविधियों और कंपनी सेवाओं के सभी क्षेत्रों को शामिल करती है। स्वयं सेवा, विश्लेषण के लिए सूचना सेवाओं के इम्प्लीमेंटेशन (Implementation) के लिए आवश्यक पूर्ण कार्यक्षमता प्रदान करता है।

सैप के बारे मे कुछ रोचक जानकारियां (Some interesting facts about SAP:)

सैप को क्यों चुने

एसएपी को दुनिया की चौथी सबसे बड़ी कंपनी के रूप में जाना जाता है।

एसएपी आर / 3  (R/3) एक प्रसिद्ध व्यापार सॉफ्टवेयर है जिसका लक्ष्य व्यापार के सभी विभिन्न क्षेत्रों को एकीकृत करना है।

एसएपी सॉफ्टवेयर का उद्देश्य फाइनेंस (finance), डिस्ट्रीब्यूशन (distribution)और लोजिस्टिक्स (logistics)आदि से संबंधित समाधान प्रदान करना है।

एसएपी ऍप्लिकेशन्स, जो उनके नवीनतम आर / 3 (“आर” फॉर “रीयलटाइम डेटा प्रोसेसिंग”) प्रणाली के लिए बनाया गया था, फाइनेंसियल (financial), संपत्ति, कॉस्ट एकाउंटिंग (cost accounting), उत्पादन, मैटेरियल्स (materials) , पर्सनेल (personnel),प्लांट्स (plants), और संग्रहीत दस्तावेजों को प्रबंधित करने की क्षमता प्रदान करता है । आर / 3 सिस्ट Windows 2000 सहित कई प्लेटफार्मों (platforms)पर चलता है और क्लाइंट / सर्वर मॉडल का उपयोग करता है।

आर / 3 (R/3)  के नए संस्करण में एक व्यापक इंटरनेट-सक्षम पैकेज शामिल है।

एसएपी एक टेबल ड्राइव (table drive)अनुकूलन सॉफ्टवेयर है। यह व्यवसायों को अपनी व्यावसायिक आवश्यकताओं में तेजी से बदलाव करने की अनुमति देता है। व्यवसायों को अतिरिक्त स्रोत कोड (Source Code) जोड़ने के लिए यूजर-एक्सिटस (User-exits)प्रदान किए जाते हैं। स्क्रीन वेरिएंट (Screen Variants) जैसे टूल्स आपको फ़ील्ड विशेषताओं को सेट करने के लिए प्रदान किए जाते हैं ताकि उन्हें छिपाने, प्रदर्शित करने और उन्हें अनिवार्य फ़ील्ड बना सकें।

अपनी उप्ग्रडिंग कॉस्ट्स (upgrading costs) को कम करने के लिए,स्टैण्डर्ड प्रोग्राम्स (standard programs) और तालिकाओं को यथासंभव बदला नहीं जाना चाहिए। एसएपी जैसे स्टैण्डर्ड व्यावसायिक ऍप्लिकेशन्स सॉफ्टवेयर का उपयोग करने का मुख्य उद्देश्य सभी कार्यक्रमों के विकास और परीक्षण पर समय और धन व्यय की मात्रा को कम करना है। इसलिए, ज्यादातर कंपनियां एसएपी द्वारा प्रदान किए गए उपलब्ध टूल का उपयोग करने का प्रयास करेंगी।

SAP एडवांस्ड बिज़नेस एप्लीकेशन प्रोग्रामिंग (ABAP) का उपयोग करता है| एबीएपी (ABAP) को चौथी पीढ़ी के प्रोग्रामिंग भाषा के रूप में परिभाषित किया जा सकता है। SAP एबीएपी जर्मन सॉफ्टवेयर कंपनी एसएपी द्वारा बनाई गई एक उच्च स्तरीय प्रोग्रामिंग भाषा है।इसके Syntax कुछ हद तक कोबोल (COBOL)के समान है। इसमें अन्य आधुनिक प्रोग्रामिंग भाषाओं जैसे C language, विजुअल बेसिक (Visual Basic)और पावर बिल्डर (Power Builder)की कई विशेषताएं हैं। आपके प्रोग्राम नाम सम्मेलन एक पत्र yxxx या zxxx के साथ शुरू होता है।

सैप का इतिहास? (History of SAP)

एसएपी कंपनी की स्थापना जर्मनी में 1 972 में पांच पूर्व-आईबीएम इंजीनियरों वेलेनरेथर, होप, हेक्टर, प्लैटनर और त्सचिरा द्वारा की गई थी।

सैप के संस्करण (Versions of SAP)

  1. एसएपी के विभिन्न संस्करण हैं, आइये एक नज़र डालें:
  2. एसएपी आर / 1 (SAP R/1) : यह  एसएपी का पहला संस्करण था और 1 9 72 में लॉन्च किया गया था । अल्फाबेट आर (R) स्टैंड्स  फॉर  रियल  टाइम  डाटा  प्रोसेसिंग। यह एक स्तरीय आर्किटेक्चर (architecture) है
  3. एसएपी आर / 2 (SAP R/2): यह  1 9 7 9 में पेश किया गया एसएपी का दूसरा संस्करण था । एक डेटाबेस और संवाद आधारित ओरिएंटेड (oriented)व्यापार समाधान होने के लिए और अधिक जाना जाता है
  4. एसएपी आर / 3 (SAP R/3)  को विशेष रूप से ओपन क्लाइंट / सर्वर सिस्टम (client/server systems)को ध्यान में रखते हुए डिज़ाइन किया गया था, जिसने नए मानकों को निर्धारित किया है जो व्यापार सूचना से संबंधित समाधान प्रदान करने की आवश्यकता को पूरा करते हैं।
  5. एसएपी ईआरपी केंद्रीय कॉम्पोनेन्ट  (ईसीसी) 6.0 (SAP ERP Central Component (ECC) 6.0)
  6. एसएपी हाना (SAP HANA): यह एसएपी का एडवांस्ड ईआरपी समाधान है, और इसे क्लाउड (cloud)या परिसर में स्थापित किया जा सकता है।

सैप के मॉड्यूल (Modules of SAP)

नीचे एसएपी के कुछ महत्वपूर्ण मॉड्यूल को समझाया गया है:

  1. एसएपी एबीएपी (SAP ABAP): एसएपी एप्लिकेशन के विकास और संशोधन के लिए एबीएपी प्रोग्रामिंग भाषा है।
  2. एसएपी हाना (SAP HANA): हाना एक ऐसा प्लेटफार्म (platform)है जो डेटाबेस, डाटा प्रोसेसिंग और एप्लिकेशन प्लेटफ़ॉर्म क्षमताओं को मेमोरी (Memory)में जोड़ता है।
  3. एसएपी ऍम ऍम (SAP Material Management): यह मॉड्यूल आपको सामग्रियों की खरीद को संभालने और सूची प्रबंधित करने में मदद करता है (क्योंकि आपको कच्चे माल का भंडार रखना होगा)।
  4. एसएपी फी (SAP Financial Accounting): यह मॉड्यूल (module)आपकी सभी लेखांकन वित्तीय आवश्यकताओं को प्रबंधित करने में मदद करता है।
  5. एसएपी सेल्स  एंड  डिस्ट्रीब्यूशन (SAP Sales and Distribution): यह मॉड्यूल आपके ग्राहकों का समर्थन करता है, उदाहरण, बिक्री आदेश और ग्राहक को बिलिंग करने की दिशा में सभी तरह से। यह आपको अपने लोजिस्टिक्स (logistics)को प्रभावी ढंग से संगठित करने में सक्षम करेगा।
  6. एसएपी एचआर  (SAP Human Resource): यह आपको अपन सभी कर्मचारियों (मुआवजे प्रबंधन, बजट प्रबंधन, कार्मिक विकास, प्रशिक्षण और घटना प्रबंधन, यात्रा प्रबंधन इत्यादि) से संबंधित सब कुछ प्रबंधित (manage)करने में मदद करता है।

सैप के लाभ (Advantage of SAP)

  • ये किसी भी डाटा (DATA) को डुप्लीकेट (Duplicate)रिकॉर्ड नहीं होने देता है
  • प्लानिंग (Planning), ट्रैकिंग (Tracking), सचेंडुलिंग (Scheduling) & मैनेजमेंट (Management) काफी  आसान  हो  जाते  है
  • इसके अतिरिक्त, एसएपी ईआरपी (SAP ERP) सिस्टम प्रशासन (system administration) और उपयोगकर्ता प्रबंधन, केंद्रीकृत डेटा प्रबंधन और वेब सेवाओं के प्रबंधन जैसे कार्यों के लिए उपकरण प्रदान करता है|
  • एसएपी ईकॉमर्स (E-commerce) के साथ एकीकरण सक्षम करता है।
  • व्यापार प्रक्रिया मानकीकृत हैं
  • प्रशासनिक शुल्क को कम करने के मामले में लागत प्रभावी है।

सैप आर / 3  सफल क्यों है? (Why is SAP R/3 more successful?)

  • जानकारी सुरक्षित रखता है।
  • एसएपी आर / 3 बहु मुद्रा में काम करता है।
  • सर्वोत्तम व्यापार प्रथाओं का पालन किया जाता है
  • यह सभी इंटरप्राइजेज (enterprises) में स्वीकार किया जाता है।
  • रीयलटाइम टाइम प्रोसेसिंग विशेष रूप से सर्वर / क्लाइंट एप्लिकेशन के दौरान अधिक कुशल और प्रभावी है।
  • आवेदन प्रकृति में बहुभाषी है।

सैप आर/3  आर्किटेक्चर (Architecture of SAP R/3.)

आर्किटेक्चर ऑफ़ सैप आर/३

एसएपी आर / 3 आर्किटेक्चर (Architecture) को तीन हिस्सों में विभाजित गया है।

1) प्रेजेंटेशन लेयर (Presentation Layer): जिसमें उपयोगकर्ता अनुप्रयोग परत के माध्यम से ग्राफिकल (Graphical)यूजर इंटरफेस (interface)के साथ काम करता है।

2) एप्लिकेशन लेयर (Application Layer): उपयोगकर्ता को प्रस्तुति और डेटाबेस परत के बीच इंटरैक्ट (interact) करने की अनुमति देता है।

2) डाटाबेस  लेयर (Database Layer): जिसे ईआरपी एसएपी सिस्टम (ERP SAP Systems) के सभी डेटा को स्टोर करने के लिए केंद्रीय डेटाबेस के रूप में जाना जाता है।

सैप प्रोजेक्ट इम्प्लीमेंटेशन के चरण

SAP-Implementation-Phases

सैप कार्यान्वयन परियोजना के विभिन्न चरण: (The various phases of a SAP Implementation project:) 

  • फेज 1- प्रोजेक्ट प्रिपरेशन
  • फेज 2- बिज़नेस ब्लूप्रिंट
  • फेज 3-रिलाइजेशन
  • फेज 4- फाइनल प्रिपरेशन
  • फेज 5- गो लाइव एंड सपोर्ट

सैप बिजनेस सूट (SAP Business Suites:)

एसएपी ग्राहकों की आवश्यकताओं को पूरा करने के लिए एसएपी ईआरपी के साथ विभिन्न आवेदन प्रदान करता है। महत्वपूर्ण नीचे सूचीबद्ध किया गया है:

  • सैप एससीएम (सप्लाई चैन मैनेजमेंट ) (SAP SCM)
  • सैप सीआरएम (कस्टमर रिलेशनशिप मैनेजमेंट ) (SAP CRM)
  • सैप पीएलएम (प्रोडक्ट लाइफ साइकिल मैनेजमेंट) (SAP PLM)
  • सैप एसआरएम (सप्लायर रिलेशनशिप मैनेजमेंट) (SAP CRM)
  • सैप एपीओ (एडवांस प्लानिंग एंड ऑप्टिमाइजेशन) (SAP APO)
  • सैप एसईएम (स्ट्रेटेजिक एंटरप्राइज मैनेजमेंट सॉफ्टवेयर) (SAP SEM)
  • सैप बी आई (बिजनेस इंटेलिजेंस) (SAP BI)

सैप कार्यात्मक मॉड्यूल, उनमें से कुछ निम्नानुसार हैं: (SAP Functional modules, some of them are as follows:) 

  • सैप पीपी (प्रोडक्शन प्लानिंग) (SAP PP)
  • सैप फीको (फाइनेंसियल एकाउंटिंग एंड कंट्रोलिंग) (SAP FICO)
  • सैप मम (मटेरियल मैनेजमेंट) (SAP MM)
  • सैप एसडी (सेल्स एंड डिस्ट्रीब्यूशन ) (SAP SD)
  • सैप एचआर (ह्यूमन रिसोर्सेज) (SAP HR)
  • सैप की यूएम (क्वालिटी मैनेजमेंट) (SAP QM)
  • सैप डब्लूएम (वेयरहाउस मैनेजमेंट) (SAP WM)
  • सैप एल आई इस (लोजिस्टिक्स इनफार्मेशन सिस्टम) (SAP LIS)
  • सैप पी एस (प्रोजेक्ट सिस्टम) (SAP PS)
  • सैप ई एच एस (एनवीरोमेंट हेल्थ एंड सेफ्टी) (SAP EHS)
  • सैप पी एल एम (प्रोडक्ट लाइफ साइकिल मैनेजमेंट) (SAP PLM)

सैप तकनीकी मॉड्यूल उनमें से कुछ निम्नानुसार हैं: (SAP Technical modules some of them are as follows:) 

  • सैप नेट विवर (SAP NetWeaver)
  • सैप बेसिस (SAP BASIS)
  • सैप बी डब्लू (बिज़नेस वेयरहाउसिंग) (SAP BW)
  • सैप एक्स आई (एक्सचेंज इंफ्रास्ट्रक्चर) (SAP PI/XI)
  • सैप  ए बी ए पी (एडवांस बिज़नेस ऍप्लिकेशन्स प्रोग्रामिंग) (SAP ABAP)

सैप उद्योग समाधान मॉड्यूल (SAP Industry Solutions Modules)

  • सैप आई एस-ए एफ इस : अपैरल & फुटवियर (SAP IS-AFS)
  • सैप आईइस-आयल : आयल & गैस (SAP IS-Oil)
  • सैप आईएस-टिल : यूटिलिटीज (SAP IS-Util)
  • सैप आईइस-रिटेल : रिटेल (SAP IS-Retail)
  • सैप आई इस -ऑटो : ऑटोमोटिव (SAP IS-Auto)
  • सैप मीडिया : मीडिया (SAP Media)

Comments

comments

Comments are closed.